जीवन परिचय

ए.पी.जे. अब्दुल कलाम की जीवनी

ए.पी.जे. अब्दुल कलाम की जीवनी
Written by Jagdish Pant

दोस्तों आज हम आपको भारत के ग्यारहवें राष्ट्रपति ए.पी.जे. अब्दुल कलाम की जीवनी  से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी देने वाले हैं | आज हम आपको ए.पी.जे. अब्दुल कलाम के जीवन के  सघर्ष के बारे में कुछ  रोचक जानकारी देने वाले है

 

ए.पी.जे. अब्दुल कलाम की जीवनी

A.P.J. Abdul कलाम  का जन्म

ए.पी.जे. अब्दुल कलाम का जन्म तमिलनाडु के एक  छोटे से गाँव में हुआ था और उस गाँव का नाम धनुषकोडी था|   ए.पी.जे. अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 में हुआ था|  ए.पी.जे. अब्दुल कलाम  के तीन भाई और एक बहन थी  भाई का नाम था

  1. Kasim Mohammed 
  2. Mustafa Kamal
  3. Mohammed Muthu Meera Lebbai Maraikayar
 ए.पी.जे. अब्दुल कलाम  की बहन का नाम Asim Zohra था

और उनके पिता अपनी नाव मछुआरों को किराए में देते थे| माता एक  गृहिणी थी कलाम जी एक सयुक्त परिवार में रहते थे|

ए.पी.जे. अब्दुल कलाम की जीवनी

A. P. J. Abdul की प्राथमिक शिक्षा

ए.पी.जे. अब्दुल कलाम  शिक्षा  की शुरुआत  रामेश्वरम के एक के छोटे से प्राथमिक विद्यालय से पड़े थे|    A. P. J. Abdul अपनी शिक्षा को जारी रखने के लिए अख़बार बेचने का कार्य आरम्भ किया

अब्दुल कलम के गुरु इयादुराई सोलोमन के द्वारा कहीं गई कुछ बातें – जीवन मे सफलता तथा अनुकूल परिणाम प्राप्त करने के लिए तीव्र इच्छा, आस्था, अपेक्षा इन तीन शक्तियो को भलीभाँति समझ लेना और उन पर प्रभुत्व स्थापित करना चाहिए।   रामनाथपुरम में स्थित स्च्वार्त्ज़ मैट्रिकुलेशन स्कूल से   A. P. J. Abdul बारहवी की शिक्षा प्राप्त की थी|

उच्च शिक्षा

बारहवी की शिक्षा के बाद उन्हने जोसफ कॉलेज (St. Joseph College) में दाखिला लिया था|  जो  की तिरुचिराप्पल्ली में स्थित है| और  इसके बाद उन्हनें आगे की पढ़ाई हेतु 1955 में मद्रास जा पहुंचे जहां से उन्होंने 1958 में अंतरिक्ष विज्ञान में स्नातक की उपाधि प्राप्त की |

ए.पी.जे. अब्दुल कलाम का सपाना था  की वह भारतीय सेना के वायु सेना में फाइटर प्लेन के चालक बनना चाहते थे|

E-waste क्या हैं (E waste in Hindi )

Cloud computing क्या है ( what is Cloud Computing in Hindi)

Block chain Technology क्या है

Mutual fund क्या है (Mutual fund in Hindi)

घर बैठे बिना किसी investment के पैसे कमायें (how to make money )

jio fiber speed test

Reliance jio fiber plan – jio Giga fiber broadband plans

LTE और VOLTE (what is LTE aur VOLTE )

5 तकनीकें जो पूरी तरह से भारतीय कृषि को बदल सकती हैं

डिजिटल सिग्नेचर क्या है(What is digital signature in Hindi)

OTG क्या होता है. (what is OTG in hindi)

speed post (what is speed post in hindi )

what is captcha in hindi (captch क्या हैं )

 

 ए.पी.जे. अब्दुल कलाम के करियर की शुरुआत 

अब्दुल कलाम के  करियर की शुरुआत DTD और p में  तकनिकी क्षेत्र में विशिष्ट वैझानिक के रूप में हुई थी|  इसके बाद  ए.पी.जे. अब्दुल कलाम ने इन्डियन आर्मी के लिए एक  हेलीकाप्टर डिज़ाईन करने का कार्य किया था|

1962 में ए.पी.जे. अब्दुल कलाम ने रक्षा अनुसन्घान को छोड़ कर भारतीय अंतरीक्ष अनुसन्घान में आ गये थे|  उसके बाद में 1862 से 82 तक अंतरीक्ष अनुसन्घान के साथ जुड़े थे |  इस समय के दौरान A.P.J. अब्दुल ने भारत के पहले स्वदेशी उपग्रह प्रक्षेपण यान एसएलवी 3 के निर्माण में भारतीय निदेशक के रूप में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी

तथा जुलाई 1982 में रोहिणी उपग्रह  अंतरिक्ष में सफलतापूर्वक प्रक्षेपित करने  में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी|

A. P. J Abdul का वैज्ञानिक जीवन

A.P.J Abdul कलाम ने स्वदेशी Target piercing controlled missile को डिजाइन किया था| इसके बाद A.P.J Abdul कलाम ने  अग्नि एवं पृथ्वी Missiles को विदेशी तकनीक ने बनाया था| फिर जुलाई 1992 से दिसम्बर 1999 तक A.P.J Abdul कलाम रक्षा मंत्री के विज्ञान सलाहकार तथा सुरक्षा शोध और विकास विभाग के सचिव थे|  सन 1998 में A.P.J. Abdul  कलाम की देखरेख में दूसरी  बार उन्हें परमाणु  परीक्षण में सफलता मिली| और इसके साथ भारत भी परमाणु  देश बना |   A.P.J Abdul  के सभी  महत्वपूर्ण योगदान को देखते  हुए भारत के सबसे बड़े सम्मान भारत रन्त से 1997 में दिया गया था| 

A. P. J Abdul कलाम का राष्टपति बनना

सन 2002 में वह भारतीय जनता पार्टी और N. D. A  दलों के साथ मिलकर राष्टपति के उम्मीदावार थे  सभी ने A.P.J Abdul को  समर्थन  दिया | इसी के साथ A.P.J Abdul 18 जुलाई 2002 को भारत के ग्यारहवें राष्ट्रपति बन गये थे | जीवन में कम सुविघा और सुखा के बिना भी वह भारत के राष्ट्रपति बने  A.P.J Abdul कलाम आज के युवा पीड़ी के लिए एक सही  उदाहरण है  

A. P. J Abdul कलाम का स्वभाव

A. P. J Abdul कलाम छोटे बच्चे से  बहुत ही स्नेह करते थे|  A.P.J Abdul  कलाम को सभी लोग मिसाइल मेन भी कहते  थे वह कहते थे की युवा चाहे तो देश पूरी  को बदल भी सकता है| A.P.J Abdul कलाम पहले से भारतीय राष्टपति थे जिनका विवाह नही हुआ  हैं 

निधन

A.P.J Abdul कलाम 27 जुलाई 2015 को एक भारतीय प्रबंधन संस्थान शिलोंग में रहने योग्य ग्रह पर व्याख्यान दे रहें थे| और तभी  A.P.J Abdul कलाम को आचानक  कार्डियक अरेस्ट आने से वह घिर पड़े फिर उन्हें लगभग 6:३० बजे बेथानी अस्पताल में आईसीयू  में थे| दो घंटे के बाद A.P.J Abdul कलाम को मृत्यु  पुष्टि कर दी गई

 A.P.J Abdul कलाम मृत्यु के बाद उनके शव को हेलीकॉप्टर के जरिए  शिलोंग से गुवाहाटी में लाया गया| फिर उन्हें जिन्हा से नई दिल्ली  विमान में लाया गया|  A.P.J Abdul कलाम को 28 जुलाई  की सुबह सुबह दिल्ली  पहुचाया गया| और वहा  दिल्ली के मुख्यमत्री अरविंद केजरीवाल और प्रघानमंत्री, देश के तीनों सेनाओं के लीडर एयरपोर्ट थे|  कलाम के पार्थिव शरीर तिरंगे में लिपटे कर पुरे राजकीय सम्मान के साथ उनके पार्थिव शरीर को उनके गाव मे पहुचाया गया 

 A.P.J Abdul कलाम को मिले कुछ मुख्य अवोर्ड एंव सम्मान 

  • सन 1981 को भारत सरकार द्वारा उन्हें नेशनल अवार्ड पद्म भूषण मिला
  • सन 1990 को भारत सरकार द्वारा पद्म विभूषण मिला
  •  सन 1997 को भारत रत्न  दिया गया 

मेरी अंतिम राय

आज दोस्तों हमने आपको इस आर्टिकल  में ए.पी.जे. अब्दुल कलाम की जीवनी के बारे में और A.P.J. Abdul कलाम  का जन्म, A. P. J. Abdul की प्राथमिक शिक्षा, ए.पी.जे. अब्दुल कलाम के करियर की शुरुआत , A. P. J Abdul कलाम का स्वभाव,  निधन के बारे में महत्वपूर्ण बाते बताई 

आपको यह लेख कैसा लगा  निचे comment कर के जरुर  बताइए अगर अभी भी  कोई सवाल आप पूछना चाहते हो तो निचे Comment Box में जरुर लिखे| और कोई सुझाव देना चाहते हो तो भी जरुर दीजिये| हमारे Blog को अभी तक अगर आप Subscribe नहीं किये हैं तो जरुर Subscribe करें| जय हिंद, जय भारत, धन्यवाद|

 

 

 

About the author

Jagdish Pant

Leave a Comment

%d bloggers like this: