तकनीक

प्रिंटर क्या है (what is printer in Hindi )

प्रिंटर क्या है (what is printer in Hindi )
Written by Jagdish Pant

दोस्तों आज हम आप प्रिंटर क्या है (what is printer in Hindi ) के बारे में जानकारी देने का प्रयास करेंगे| क्या आपको पता है की प्रिंटर  इस काम आता है  तथा इसके प्रकार के बारे में आपको अधिक से अधिक जानकरी देने का प्रयास करेंगे |

प्रिंटर क्या है (what is printer in Hindi )

प्रिंटर भी एक Output Device है  यह computer या किसी भी अन्य डिवाइस पर स्‍टोर डेटा को लेता है इसके बाद पेज पर उस इनफॉर्मेशन को प्रिंट करता हैं, आज प्रिंटर का इस्तमाल देश भर में हो रहा है इसका इस्तमाल हार्ड कॉपी, फोटो कॉपी करने में किया जाता है आज बजार में प्रिंटर आकार, स्पीड, गुणवत्ता और अनेक कीमतों में मिलते है  आज प्रिंटर का उपयोग अनेक कामो के लिए किया जाता है कभी इसका प्रयोग कलर प्रिंट निकालने के लिए किया जाता है और कभी इसका प्रयोग ब्लैक एंड वाइट प्रिंट के लिए किया जाता है

History of Printer in Hindi

  • 19 वीं शताब्दी में चार्ल्स बैबेज ने अंतर इंजन (Difference Engine) के लिए पहला कंप्यूटर प्रिंटर तैयार किया था| 
  • जापान ने पहला इलेक्ट्रॉनिक प्रिंटर का अविष्कार किया था| उस प्रिंटर को  Epson कम्पनी ने तैयार किया था और उसे 1968 में उपयोग में लाया था| उस प्रिंटर का नाम EP-101 था
  • पहले व्यावसायिक रूप से प्रिंटर का इस्तमाल इलेक्ट्रिक टाइपराइटर और टेलेटाइप मशीनों के साथ मैकेनिजम का उपयोग करता था
  • सन 1984 में पहला लो-कॉस्‍ट प्रिंटर HP LaserJet लॉन्‍च हुआ था
  • 1990 और 2000 के दौरान ईमेल का इस्तमाल तेजी से होने लगा इस कारण ने से प्रिंटर में कमी आने लगी
  • 2010 में  3 डी प्रिंटिंग अधिक इंटरेस्‍ट का एक क्षेत्र बन गया

प्रिंटर के प्रकार (Types of printers)

आज बाजार में अनेक प्रकार के प्रिंटर मिलते है  लेकिन भी प्रिंटर की अपनी अलग विशेषता होती है आज हम आपको कुछ प्रिंटर के बारे में जानकारी देने का प्रयास करेंगे

  1. डॉट मैट्रिक्स ( Dot Matrix ) प्रिंटर – 

डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर की यह विशेषता है की यह अक्षरों के बीच का अंतर  कम  करता है  लेकिन प्रिंटर काफी महगे होते है यह एक  साथ  बहुत सारे पेपर को प्रिंट करने की क्षमता रखता है अब हम आपको इस प्रिंटर के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बाते बताने वाले है डॉट मैट्रिक्स ( Dot Matrix ) प्रिंटर.jpg   गति –  इस प्रिंटर के कार्य करने की क्षमता को CPS ( Character per Second ) में मापा जाता है|  यह प्रिंटर एक सेकंड में 50 से 500 अक्षर छापने की क्षमता रखता है प्रिंट गुणवत्ता – इस प्रिंटर की गुणवत्ता इनकी पिन पर निर्भर करती है यह पिन 9, 18, और 24 पर मिलती है| सबसे अच्छी डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर में 24 वाली पिन पाई जाती है इसलिए इसकी गुणवत्ता सबसे अच्छी होती है 

Advantage – 

  •  डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर काफी सस्ते होते है इसलिए उनको खरीदना और उपयोग करना आसान है 
  • इसको मेंटेनेंस करना आसान है
  • डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर की प्रिंटींग की कीमत कम है

Disadvantage – 

  •  डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर की प्रिंट करने की क्षमता अच्छी नही होती है 
  • यह प्रिंट करने समय काफी शोर करता है
  • इसमें पेपर जाम हैंडलिंग करना कठिन है

2.Daisy Wheel Printers

यह पिंटर केवल कैरेक्‍टर और सिम्‍बल को प्रिंट करता है  यह काम ग्राफिक्स प्रिंट नहीं कर सकते है डेज़ी व्हील प्रिंटर एक सेकंड में 10 से 75 अक्षरों को प्रिंट कर  सकता है 1980 के दशक में यह प्रिंटर काफी चलन में थे  इसके बाद इसमें काफी बदलाव आया Daisy Wheel Printers 

Advantage – 

  • कम प्रारंभिक युनिट कॉस्‍ट
  • कम रनिंग कॉस्‍ट
  • कम मेंटेनेंस कॉस्‍ट
  • यह गर्म और धूल दोनों परिस्थिती में अच्छा  काम करता है

Disadvantage – 

  • डेज़ी व्हील प्रिंटर कम रिजोल्‍युशन आउटपुट देता है
  • यह प्रिंट करने में कम शोर करता है
  • इसके रिबन को बार बार  बदला पडता हैं

 

3.Line Printer

यह प्रिंटर  डेज़ी व्हील प्रिंटर के सामान कार्य करता है लेकिन यह प्रिंटर के समय में एक ही लाइन को प्रिंट कर सकता है  इसके बाद यह प्रिंट किए जाने वाली लाइन को बफर मेरी का उपयोग करके save करता है फिर लाइन को 500 से 3000 लाइन प्रति मिनट के समय पर पेपर प्रिंट करता है Line Printer

Advantage – 

  • यह प्रिंटर काफी फास्ट होता है
  • यह प्रिंटर प्रमुख रूप से कैबिनेट में संलग्न होते है

Disadvantage –

  • इस प्रिंटर में केवल पिन फीड पेपर का उपयोग कर सकते है
  • यह काफी शोर करते है

4. इंक जेट ( Ink Jet ) प्रिंटर – 

यह एक मात्र ऐसा प्रिंटर है जो पेपर में इंक छिड़क कार्य करता है इस प्रिंटर में चुम्बकीय प्लेटों होती है जो इंक को सही स्तान में  छिड़कती है इस प्रिंटर की गुणवत्ता सबसे अच्छी है इंक जेट ( Ink Jet ) प्रिंटर गति – यह प्रिंटर में सेकेण्ड में  600 अक्षर तक प्रिंट करने की क्षमता रखता है  यह जेट प्रिंटर के काम करने की क्षमता अलग अलग है प्रिंट गुणवत्ता –  इस प्रिंटर को नापने के लिए DPI ( Dot Per Inch ) का पयोग किया जाता है इस प्रिंटर की प्रिंट करने के शक्ति  2440, 1220 होती है इंक – जेट प्रिंटर को प्रिंट करने के लिए कार्ट्रिज इंक का प्रयोग करते है

 5.Thermal Printer

इन प्रिंटरों को आपने  बिजनेस या दुकानों के पास देखा होगा यह प्रिंटर एक विशेष प्रकार का हिट सेंसिटिव कागज का प्रयोग करता है यह प्रिंटर बहुत महंगे नहीं होते और इनका उपयोग करना बहुत आसान होता है।

6. लेज़र ( Laser ) प्रिंटर

यह प्रिंटर पेपर पर प्रिंट करने के लिए लेज़र बीम का प्रयोग करता है ताकि इमेज को ड्रम उत्तर सके  लेजर प्रिंटर की रोशनी को इलेक्ट्रिक चार्ज को बदल कर ड्रम तक पहुंचती है|  इसके बाद ड्रम रोल होकर टोनर से से होकर जाता है इसके बाद यह इलेक्ट्रिक चार्ज को पकड़ता है इसके बाद अंत में टोनर को गर्मी और दबाव के साथ एक पेपर तक भेजा जाता है और इस तरह लेज़र प्रिंटर पेपर पर प्रिंट निकलता है. गति – इस प्रिंटर की गति को नापने के लिए PPM ( Paper per Minute) का प्रयोग किया जाता है इसके प्रिंट करने की क्षमता 31 से 40 पेज तक होती है 

प्रिंट गुणवत्ता –  इस प्रिंटर की DPI ( Dot Per Inch ) लगभग 880*2440 तक होती है इसकी सबसे बड़ी विशेषता यह है क्योंकि यह सबसे अच्छा प्रिंट देता है

लेजर प्रिंटर की विशेषताए

  • इन प्रिंटरों के कार्य करने की क्षमता अधिक होती है
  • यह कम पैसों में अच्छी छपाई करते है
  • इसके कार्य करने की क्षमता अधिक है

लेजर प्रिंटर की कमियां

  • यह प्रिंटर महंगे होते है
  • इसमें बार बार ड्रम  को बदलना पड़ता है
  • यह काफी भरी होते है

7. चेन प्रिंटर (Chain Printer)-

यह प्रिंटर बहुत ही अच्छे प्रिंटर होते है इस प्रिंटर में चेन लगे होते है जो बहुत तेज घुमती है इसलिए इसे  चेन प्रिंटर (Chain Printer) कहते है|

8. पोर्टेबल प्रिंटर (Portable Printer)

यह प्रिंटर बहुत हल्के और साइज में बहुत छोटे होते है यह प्रिंटर आमतैर पर computer या लैपटॉप से प्रिंट निकालने के काम में आती है इसका इस्तमाल करना बहुत ही आसान है लेकिन इन प्रिंटरों की गति सामान्य प्रिंटरों से कम होती है इस प्रिंटर की सबसे महत्वपूर्ण बात है की यह डिजिटल कैमरे से तुरन्त फोटो निकाल देता है इसलिए इसे पोर्टेबल प्रिंटर (Portable Printer) कहते है

पोर्टेबल प्रिंटर (Portable Printer)

मल्टीफंक्शनल/ऑल इन वन प्रिंटर (Multifunctional / All in one Printer)-

आमतैर पर यह प्रिंटर आपके  Document को Scan करने के काम में आते है इसके साथ ही फैक्स करने के काम में भी आते है इसलिए इसे हम  मल्टीफंक्शनल/ऑल इन वन प्रिंटर (Multifunctional / All in one Printer) कहते है

 

Bounce Rate क्या है इसे कैसे कम करे

SMPS क्या होता है कैसे काम करता है

IRCTC क्या है और IRCTC में नया Account कैसे बनायें

Input Device क्या है और इसके प्रकार (what is input device in hindi)

CDN क्या है और आपके Website/Blog केलिए क्यों जरुरी है?

Cloud computing क्या है ( what is Cloud Computing in Hindi)

डिजिटल सिग्नेचर क्या है (What is digital signature in Hindi)

घर बैठे बिना किसी investment के पैसे कमायें (how to make money )

Computer Hardware क्या है और कितने प्रकार के है

speed post (what is speed post in hindi )

Reliance jio fiber plan – jio Giga fiber broadband plans

कुछ अन्य प्रिंटरों के नाम 

  • फोटो प्रिंटर-

यह प्रिंटर किसी भी फोटो को प्रिंट करने की क्षमता रखता है लेकिन इसमें प्रिंट करने के लिए अलग  पेपर का इस्तमाल किया जाता है|

  • डाई सबलीमेंसन ( Sublimation ) प्रिंटर : 

इस प्रिंटर का प्रयोग प्लास्टिक कार्ड, प्रिंटर पेपर और शादी के कार्ड बनाना के लिए किया जाता है

  • प्लॉटर ( Plotter ) :

प्लॉटर प्रिंटर का प्रयोग बड़े बड़े पोस्टर, बैनर और डाक्यूमेंट्स को प्रिंट करने के लिए किया जाता है

  • 3D प्रिंटर : 

यह प्रिंटर  3D इमेज को प्रिंट करता है|

  • वायरलेस प्रिंटर :

यह प्रिंटर वायरलेस होते है इसमें आप ब्लूटूथ , वाई फाई प्रयोग प्रिंट निकाल सकते है

अंतिम राय

दोस्तों आज हमने आपको प्रिंटर क्या है (what is printer in Hindi ) , History of Printer in Hindi , प्रिंटर के प्रकार (Types of printers) , कुछ अन्य प्रिंटरों के नाम के बारे में आपको अधिक से अधिक जानकरी मिली होगी| आपको यह लेख कैसा लगा  निचे comment कर के जरुर  बताइए अगर अभी भी  कोई सवाल आप पूछना चाहते हो तो निचे Comment Box में जरुर लिखे| और कोई सुझाव देना चाहते हो तो भी जरुर दीजिये| हमारे Blog को अभी तक अगर आप Subscribe नहीं किये हैं तो जरुर Subscribe करें| जय हिंद, जय भारत, धन्यवाद|

About the author

Jagdish Pant

Leave a Comment

%d bloggers like this: