medicine and fitness

मुह के कैंसर का उपचार

मुह के कैंसर का उपचार
Written by Vinod Pant

आज में आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से मुह के कैंसर की पहचान कैसे करें और इसका क्या उपचार है के बारें में अनेक जानकारी देने का प्रयास करूँगा

मुह का कैंसर –

आज के समय में ओरल कैंसर भारत में एक बड़ी समस्या बन चुकी है , आज के समय में ये समस्या ज्यादातर पुरुषों में पाई जा रही है . इसके मुख्य कारण की बात करें तो इसका मुख्य कारण तम्बाकू जैसे – बीडी ,सिगरेट ,पान मसाला आदि का प्रयोग करना है . एक वैज्ञानिक शोध में पाया गया है की तम्बाकू में लगभग 500 तरह के हानिकारक पदार्थ है जो ओरल कैंसर को पैदा करने में सहायता करते  है . अगर मुंह के कैंसर से बचना है तो इसके लिए  सभी लोगों का योगदान बहुत जरुरी है .

अगर भारत की बात करें तो जर्नल ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंस एंड रिसर्च के अनुसार भारत में हर एक लाख आबादी वाले क्षेत्र में हर  20 वा आदमी मुँह के कैंसर से पीड़ित है , और 30 % आबादी हर तरह के कैंसर से पीड़ित है . एक वैज्ञानिक शोध में ये सामने आया है की भारत में कैंसर से हर एक घंटे में 5 से ज्यादा व्यक्तियों की मौत हो जाती है .

2012 के एक आकडे के अनुसार भारत में पुरुषों और महिलाओं की बात करें तो भारत में मुँह का कैन्सर से 23161 महिलाएं और 53842  पुरुष ग्रसित है . मुँह का कैंसर ज्यादातर बुजुर्गों में ही देखा जा सकता है . आज के समय की बात करें तो आज के समय में लगभग आधा युवा पीडी मुँह के कैंसर का शिकार हो चुकी है . ये कैंसर ज्यादातर 50 से 70 उम्र के व्यक्तियों में पाया जाता है . इस कैंसर से सबसे ज्यादा दक्षिण भारत की महिलायें पीड़ित है क्योकि ये महिलाये तम्बाकू का सेवन अधिक मात्रा में करती है .

अक्सर देखा गया है की पान मसाला खाने में जो आनद प्राप्त होता है ,उसे सीखने की जरुरत नहीं है , इसी कारण से दूसरों को दिखाने के चक्कर में हम तम्बाकू वाले पदार्थों जैसे . गुटका , बीडी ,सिगरेट आदि का सेवन शुरू कर देते है . अगर हम एक हप्ते तक किसी चीज का सेवन कर दें तो हमें उसकी आदत पड़ जाती है .

रिवाइटल क्या है रिवाइटल के फायदे और नुकसान

Becadexamin कैप्सूल क्या है इसके फायदे और नुकसान

सुप्राडिन टैबलेट क्या है इसके फायदे और नुकसान

गोक्षुरा टेबलेट के फायदे और नुकसान

मुँह के कैंसर के लक्षण –

मुँह के कैंसर के शुरुवाती लक्षणों में ऐसा लगता है की आपकी मुँह की खाल का रंग सफेद हो रहा है , मुँह का लचीला पन ख़तम हो गया है , अगर आप किसी का सेवन कर रहे है तो आपको लगता है की आपके मुँह में गाठ पड़ गयी है . अगर एक बार आप में मुँह की शिकायत हो गयी तो आप तुरंत डाक्टर की सलाह ले लें , अगर आपने डाक्टर की सल्लाह नहीं ली तो ये कैंसर आपके मुँह में तेजी से फैल सकता है .  मुँह के कैंसर से पीड़ित व्यक्ति में   मरीज़ को बहुत दर्द होता है, उसे खाने पीने व सांस लेने में तो परेशानी होती ही है साथ ही मुंह से खून भी आता है .  गले में या आसपास की जगह पर सूजन भी आ जाती है . इसके आलावा मुँह के कैंसर के अनेक लक्षण जिन्हें हम आपको निचे बता रहे है .

-बिना किसी कारण नियमित बुखार आना।

2-थकान होना, सामान्‍य गतिविध करने से थक जाना।

3-गर्दन में किसी प्रकार की गांठ का होना।

4-ओरल कैंसर के कारण बिना कारण वजन का कम होता रहता है।

5-मुंह में हो रहे छाले या घाव जो कि भर ना रहे हों।

6-जबड़ों से रक्त का आना या जबड़ों में सूजन होना।

7-मुंह का कोई ऐसा क्षेत्र जिसका रंग बदल रहा हो।

8-गालों में लम्बे समय तक रहने वाली गांठ।

9-बिना किसी कारण लम्बे समय तक गले में सूजन होना।

10-मरीज की आवाज में बदलाव होना।

11-चबाने या निगलने में परेशानी होना।

12-जबड़े या होठों को घुमाने में परेशानी होना।

13-अनायास ही दांतों का गिरना।

14-दांत या जबड़ों के आसपास तेज दर्द होना।

15-मुंह में किसी प्रकार की जलन या दर्द।

16-ऐसा महसूस करना कि आपके गले में कुछ फंसा हुआ है।

मुँह के कैंसर की पहचान –

अगर आपको लगता है की आपको भी मुँह के कैंसर की शिकायत है तो आप को मुँह के जिस हिस्से में कैंसर की शिकायत हो आप उस हिस्से की रक्त की जांच करवा लें , बायोप्सी द्वारा मसल्‍स की जॉच करवा लें .

मुँह के कैंसर कैसे पैदा होता है –

स्मोकिंग करने से –

जो लोग सिगरेट, सिगार, हुक्का, इन तीनों चीजों का सेवन करते उन लोगों में ज्यादातर मुँह का कैंसर पाया जाता है . जो लोग स्मोकिंग करते है  इनमें स्मोकिंग नहीं करने वालों लोगों के  मुकाबले कैंसर का खतरा 6 % ज्यादा बड जाता है .

तम्बाकू चबाने से –

तंबाकू सूंघने, खाने या चबाने वाले लोगों को मुँह के कैंसर का खतरा उन लोगों से 50% ज्यादा रहता है जो लोग तम्बाकू का सेवन नहीं करते है . ज्यादातर मुँह का कैंसर  गाल, गम्स और होंठों में होते हैं.

एल्कोहाल –

जो लोग एल्कोहाल का सेवन करते है उन लोगों में बाकि लोगों के मुकाबले कैंसर का खतरा 6% ज्यादा रहता है .

जिन लोगों के परिवार में पहले से किसी सदस्य को मुँह का कैंसर रहा हो ,, उन लोगों को मुँह के कैंसर का खतरा ज्यादा रहता है . मुँह का कैंसर का और भी अनेक कारण है जैसे – तम्‍बाकू (तंबाकू, सिगरेट, पान मसाला, पान, गुटखा) व शराब का अधिक तथा ओरल सेक्स व मुंह की साफ-सफाई ठीक से न करना आदि .

मुँह के कैंसर का उपाय –

मुँह का कैंसर का बचाव आसान है , अगर हम कुछ सावधानियां बरतें है तो हम काफी हद तक इस कैंसर का शिकार होने से बच सकते है ,मुँह के कैंसर से बचने से के लिए कुछ सावधानियां जैसे किसी भी प्रकार के तम्बाकू व गुटके जैसी चीज़ो का सेवन न करना , किसी भी प्रकार का नशा करने से बचना आदि बरतनी चाहिए .

शुरुवात में उपाय है मुमकिन –

मुँह का कैंसर एक बहुत तेजी से फैलने वाली बीमारी है , अगर इस कैंसर का सही समय पर पोअता नहीं चले तो इससे पीड़ित व्यक्ति की जान भी जा सकती है . मुंह के कैंसर की शुरूवाती परिस्थितियों में मुंह में लाल या सफेद पैच पाया जाता है, कुछ परिस्थितियों में न ठीक होने वाला दर्द युक्त अल्सर भी हो सकता है या फिर बिना दर्द वाला कोई छोटा दाना जो बहुत दिनों से नहीं ठीक हो रहा हो, ये वो स्थितियां है जिसमें मुँह के कैंसर की पहचान करना मुश्किल हो जाता है . लेकिन अगर इन स्थितियों में कैंसर को पहचाना जाता है तो इसका इलाज़ मुमकिन है . कैंसर जैसी बीमारी का पता शुरूवाती दौर में लगना बहुत ज़रूरी होता है .

 

अंतिम राय –

आज हमने आपको मुँह के कैंसर के बारें में अनेक जानकारी दी जैसे – मुँह का कैंसर ,मुँह के कैंसर के लक्षण , मुँह के कैंसर की पहचान , मुँह का कैंसर कैसे पैदा होता है , मुँह के कैंसर का उपाय , आदि ,

हम आशा करते है की आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मुँह के कैंसर के बारें में जो भी जानकारी दी वो जानकारी आपको पसंद आई होगी , आज आप ने जो भी जानकारी हासिल की उसे आप अपने तक ही सिमित नहीं रखे बल्कि उसे दूसरों तक भी पहुचाएं , जिससे दुसरे लोग भी इसे जान सके ,

आपको यह लेख कैसा लगा नीचे comment कर के जरुर बताइए अगर अभी भी कोई सवाल आप पूछना चाहते हो तो निचे Comment Box में जरुर लिखे | और कोई सुझाव देना चाहते हो तो भी जरुर दीजिये |  अगर अभी तक आपने हमारे Blog को  Subscribe नहीं किया  हैं तो जरुर Subscribe करें | जय हिंद, जय भारत, धन्यवाद |

 

 

 

About the author

Vinod Pant

Leave a Comment

%d bloggers like this: